ऊंठ रो गीत (प्रहास साणोर)

।।दूहा।।
करहल बीकानेर रा, नजरां नीका नूर।
चढियां तीखा चीर-धर, महि विरकां मसहूर।।

पगतल़ फाबै प्रबल़ता, अवचल़ उडै अरोड़।
जती महाबल़ जंगल़ रा, सुद्ध थल़ ऊंठ सजोड़।।

जाल़ां मन राजी जिकै, डर ना काल़ां देख।
डगर उलाल़ां भरण डग, पाल़ां चढणा पेख।।

मन भायोड़ा मुलक रै, हिव तायोड़ा होड।
तीखोड़ी पण तोड रा, जायोडा धर जोड।।

।।गीत – प्रहास साणोर।।
अगै करहलां जोड रा वरी धिन कीरती,
तीखली तोड रा ढांण ताता।
हेरिया नहीं धर दूसरी होड रा,
महि मन पूरणा कोड माता।।1

चीरता धरा नै उरां रख चाव सूं,
वीरता रणांगण जिकै बंका।
धूत मजबूत नह छोडता धीरता,
डकर गंभीरता दिए डंका।।2

पिंड परचंड अर हूंस रा प्रबल़ पण,
गेह रा मंड पण गाढ गाढा।
प्रसिद्ध नवखँड पर लाटणा पँगी रा
दपट बल़वंड धिन दिए दाढा।।3

महा मतवाल़ जो फाबता मगरिये,
सगरिये भाल़ता चखां साथी।
डगरिये पवन जिम उडंता डांण भर,
भाव पण नगरिये मोद भाती।।4

सिखर जिम नगां रा थुंभ वा सोहती,
मोहती आरसी इडर मानो।
वाह बगलाण जो उरल़ तन बोहती,
जोहती वाट सुसियाण जानो।।5

चठठ कर रीस में पीसता चरखियां,
दीसता परखियां रीस डाकी।
भड़कियां गिणै नीं तिला सम भड़ां नै,
जरकियां सुणै नीं मछर जांकी।।6

फूल जिम सुकोमल़ आसणां फूठरा,
सवारी पालणा अणद साजै।
साजणा पथ नै बाज रै समोवड़,
विड़ंग धिन थल़ी रा जा’झ बाजै।।7

प्यारी सूं मिलण हद टोरता पामणा,
चोरता बखत नै चावधारी।
फेर का वैरियां ऊपरै फोरता,
भलां दल़ तोड़ता पिसण भारी।।8

दूर नै नजीकत करंता डढाल़ा,
भरंता डगां मन जोस भारी।
बीह पण नकोई धरंता विकटवट,
सधर पण जरंता पीड़ सारी।।9

भाखरां धूंसता बांठकां भरोसै,
लाखरां पमंगां छडै लारै।
काकरां तणो पथ आंहनै कठणपण,
धोरियां आकरां नको धारै।।10

जोगिसर धोरियां जुनोड़ा जाणजो,
उनोड़ा थल़ां में उमँग आणै।
भलोड़ा घरां रै भाग सूं भोम पर,
जाहर पण सजोड़ा अजै जाणै।।11

कायबां रीझता भला नर कल़ू में,
लाख रा पटायत वांद लेता।
ऊठनै कीरती-खटायत आघ कर,
दाद दे माण में जूंग देता।।12

गया मनमोट वै गुणां रा पारखू,
थाट पण कीरती कोट थावै।
समय री खोट सूं सकव पण समझियो,
जोवतां ओट बिन ऊंठ जावै।।13

खास पाकेट हद भार पण खटेवा,
ख्यांत कर दटेवा करण खेती।
लटेवा खेत खलिहान पण लोभिया,
हियै सद भटारा रखै हेती।।14

जाखोड़ा बीकपुर तणा जग जाहरां,
न्हाल़ पण घोड़ां सूं फबै नीका।
अरोड़ा सीम री रुखाल़ी अडरपण,
तखरपण सजोड़ा करण तीखा।।15

~~गिरधरदान रतनू “दासोड़ी”

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *