जय जय भारत देश

हमको आजादी मिली, और बँट गया देश।
अब नेता बन आ गयै, नन्है बडै नरेश॥1

पहले पाकिस्तान को, बांट गयै अंग्रेज।
अब हमनें बांटा उसै,जाति पांती सहेज॥2

जाति धर्म प्रदेश से, राजै बनते रोज।
नेता कोलंबस हुए, औ सत्ता की खोज॥3 […]

» Read more

आवड वंदना – त्रिकूटबंध गीत

।।गीत-त्रिकूट बंध।।
मन रंग थळ री मावडी,
नरपत उदधि भव नावडी,
शिणगार सोळह सजै सुंदर, लाख नव संग लेय।
अगवाण नाचै आवडा,
मन मोद कर धी मामडा,
धर चाप पद शुभ धरणि धसकत।
घुघर घण रव घमम घमकत।
ठमक ठम ठम रमत ठमकत।
फरर फर फर वसन फरकत।
चमक दुति जिम चपल चमकत।
विविध नभ शुभ सुमन वरसत।
नमन सुर नर करत निरखत।
नयण दरसण करत नित प्रत। देवी आणंद देय।।1।।[…]

» Read more

खोडल थारां बाळरी

खोडल थारां बाळरी, बाई करजे बाळ। चढ झट आ घडियाळ पर, टाळ विघन ततकाळ॥1 खोडल के खोडी भई, या भूली थुं वाट। ‘बाळक रे बिपदा पडी, मेट आय गभराट॥2 खोडल थुं बेठी कठे, कुकुं कर कर साद। बाळकियारी कर बळण, आई हरो अवसाद॥3 खोडल क्युं बोळी बणी, मारी वेळा मात। माफ करो माजी हमे म्हारा थै अपराध॥4 खोडल थुं हरदम आयनें, आफत हरती अंब। पण नरपत री वेळ क्युं, आई कियो विलम्ब॥5 खोडल थैं कीधी खरी, डरी देख मम दुःख। पडी जदे विसमी विपत, मां न दिखायो मुख॥6 खोडल छोड अबोलडा, कर छोरु संग बात। माता व्हे रुठी रहो, ओ […]

» Read more

दुहा सोरठा गीत री

🌺दुहा सोरठा गीत री🌺

कदे शबद रा फूलडां, कदै भाव नाळेर।
धरतौ हुं मारै धकै, जैडी म्हौ मन लेर॥1
आखौ हुं अरपूं कदै, कदै वधेरुं फोड।
हरपळ मां स्वीकारती, करै घणौ मन कोड॥2

पांच सात इगयार कर , भेळा घण नाळेर।
लीलौ तोरण मढ धकै, अरपूं मां ने फेर॥3 […]

» Read more

🌺शिव स्तवन🌺

🍀छंद :त्रिभंगी🍀
वसतौ गिरि हिम पर,अर गिरिजावर,तन बाघांबर , है धारी।
गळ राखत विषधर, भाल चंद्रधर,जटा गंगधर , त्रिपुरारी।
मन धरत उमंगधर जिणनै मुनिवर,देव दिगंबर, महादेवम्।
जय जय शिवशंकर, हे प्रलयंकर, सुंदर सुखकर, सत्य शिवम्॥1॥ […]

» Read more

करुं शबद रा खाजरू

मदिरा प्हैली धार री, डिंगळ री डणकार।
जाजम जमगी जोर री, आवौ सब सिरदार॥1
हुं मां रो, मां माहरी, किण रे उण सूं काह।
मन मांनै वा पुरस दूं, बिनां किया परवाह॥2
करुं शबद रा खाजरू, भाव तणी दूं धार।
पीवै माता प्रेमसूं, सदा करै स्वीकार॥3 […]

» Read more
1 5 6 7