इन्द्रवा रा सोरठा – डॉ. शक्तिदान जी कविया कृत

नर नारी मे नेह, घर मे व्हे संपत घणो।
गिणो सुरग ज्यू गेह, अंतस भरियो इन्द्रवा।।१
धौलो दूध न धार, सब पीलो सोनो नही।
सांग घणा संसार, ओलखणा झट इन्द्रवा।।२
घण सुख री घडियोह, सगली दुनिया साथ दे।
पण अबखी पडियोह, आवै विरला इन्द्रवा।।३
माथे रो अभिमान, पगां पडतो पेखियो।
सब दिन व्हे न समान, आ मत भूले इन्द्रवा।।४
एक बार अहसांन, करै सजन घण कोड सू।
मिनख बधारे मान, ऊमर तांई इन्द्रवा।।५
दूर सुगंधी देख, भैला व्हे दिस दिस भमर।
लाखां इ बातां लेख, इलम बडो है इन्द्रवा।।६
ठावी हंसां ठोड, बेठी दीसे बागडा।
पमंग बजाता पोड, जठे ऊभा रासभ इन्द्रवा।।७
साहित ठोड सराब, जद सू छायो जगतमे।
उतरण लागी आब, ईहग कुल मे इन्द्रवा।।८
तोतक भोपा तांण, दीठी कलजुग देवियां
जोडे माया जांण, आडम्बर रच इन्द्रवा।।९
पडवां हंदी प्रीत, हवेलियो मे नह हुवे।
गावे मेहल गीत, उच्छब मे मिल इन्द्रवा।।१०
मन चिंता मुरझाय, रिशता बिगडे रीस सू।
जूवे मे धन जाय, आसव मे तन इन्द्रवा।।११
दुख सहियों बिन देह, सुख रो सांचो साव नी।
महि आवे ज्यू मेह, आंधी लारे इन्द्रवा।।१२
पैखो तूली पाप, बालण कज मूंडो बले।
ओरां पैली आप, आ खुद बलसी इन्द्रवा।।१३
पद री व्हे पूजाह, नर भरमीजे भाव नित।
दुनिया गुण दूजाह, आखै मुख पर इन्द्रवा।।१४
आजादी आयोह, पूतां परणायो पछे।
भेलप नह भायोह, अद रद हुयगी इन्द्रवा।।१५
छंद दिया छटकाय, वैण सगाई विसरी।
थोथो प्रचार थाय, अब मरुभाषा इन्द्रवा।।१६
पद रुतबो पायोह, मिलै बधायो मोकली।।
ओढा दिन आयोह, अबखायां व्हे इन्द्रवा।।१७
पाडोसी परिवार, सैण सहोदर निज सगा।
है जित्यो ही हार, ओ विचार रख इन्द्रवा।।१८
फूंक बुझावे फैर, मैणबतियो मोकली।
हमे जलम दिन हैर, ऊलटी रीता इन्द्रवा।।१९
बिन लेखक बतलाय, छांने ग्रंथ छपायले।
लगे हाय री लाय, अंत जाय सब इन्द्रवा।।२०
महि घमोडे माट, घर घर मे धीणा घणा।
थलवट रा ऐ थाट, और ठोर नह इन्द्रवा।।२१
पैली सुख रो पाठ, चीज कदे नह चोरणी।
कूडी हांडी काठ, एकर चढसी इन्द्रवा।।२२
पद मोटो पावेह, छोटे घर रा छोकरा।
अंजस जद आवेह, अपणी मैनत इन्द्रवा।।२३
नह निकले नामून, धोखै सू पद धारियो।
कुदरत रो कानून, अंत मिले फल इन्द्रवा।।२४
मगरां वाली मोज, नगरां मे मिलसी नही।
नेह छेह व्हे नोज, उर निरांयत इन्द्रवा।।२५
छटा गीत लय छंद, भाव अनूठो व्हे भले।
उपजे हिय आंनद, उण कविता सू इन्द्रवा।।२६

~~डॉ. शक्तिदान जी कविया
(संकलन एम एस रतनू) 

Leave a Reply

Your email address will not be published.