माधव रस मकरंद

कृष्ण, राधा, मीरा के जीवन प्रसंग पर विभिन्न चित्रों पर करी गयी कल्पना दोहे और सवैया के माध्यम से

5 comments

  • डाॅ. एस. एस. लखावत

    अतुल्य शब्द….. अद्भुत चित्र….. एक दूजे के परिपूरक….
    नरपत सिंह जी और मोरार दान जी को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ…..

  • मनोज चारण "कुमार" (गाडण)

    नरपतसा आपकी रचना और आपकी कल्पना शक्ति को नमन करता हूँ, बहुत ही शानदार रचनाएँ, और उतनी ही बेहतरीन स्लाइड बनाने के लिए आदरणीय मोरारदानजी भी बधाई के पात्र है।

    बधाई हो हुकुम

    मनोज चारण “कुमार” (गाडण)

  • supla charan

    Very nice

  • Mayur Sidhpura

    Ati sunder. ..

    Great Kaviraj Narpatdanji Ashiya

Leave a Reply to डाॅ. एस. एस. लखावत Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *