चारण समाज निर्देशिका – गाँव पर क्लिक करें

कृपया इस लिस्ट को सही करने में सहयोग करें। अपने सुझाव admin@charans.org पर मेल करें अथवा नीचे कमेन्ट में लिखें।

जिला - डूंगरपुर, राजस्थान

# तहसील गाँव शाखा अन्य जानकारी
1 ओमरी   खिडिया
2 खडकदा   खिडिया
3 खली डोंडा   कविया अन्यत्र बस गए
4 बामणिया   नरा
5 आसपुर कालू गांमड़ा   खिड़िया खिडीया हमीरजी को रावल द्वारका दासजी ने कालू गामडा साँसण दिया।
6 आसपुर नपणिया   भादा
7 आसपुर नया गाँव   महियारिया (केशरिया) अन्यत्र बस गए
8 आसपुर निपोतिया   भादा
9 डूंगरपुर खेरवाड़ा   मीसण (गेलवा)
10 डूंगरपुर चीबूड़ा   आसिया विद्वान आसिया को डूगंरपूर रावल पुन्जोजी ने चीबुडा साँसण दिया।
11 डूंगरपुर चोखंड़ी   सौदा
12 डूंगरपुर झाकोल   मीसण (गेलवा)
13 डूंगरपुर नरणिया   झूला
14 डूंगरपुर वसुन्दरका   महडू
15 डूंगरपुर सन्तू   खिड़िया
16 डूंगरपुर सारेली   सौदा
17 सागवाड़ा गामड़ा   झूला कुवावा से झूला आला जी को रावल देदो जी ने गामडो साँसण दिया।
18 सागवाड़ा चुडिंयावाडा   झूला चारण प्रभुदान जी व रामचंद्र गुजरात के ईडर के गांव कुवावा से यहाँ वागड आये। डूंगरपुर रावल खूमाण सिंह ने संवत 1690 को साँसण दिया।
19 सागवाड़ा जगपुरा   खिड़िया
20 सागवाड़ा नवगांमौ   सिंढायच मौगडा से आकर सिंहढायच विशनदान ने रावल विजय सिंह कुंवर लक्ष्मण सिंह ने संवत 1970 कार्तिक शुदि पूर्णिमा को आलीशान तीन गाँव साँसण दिये- नवगामौ 2.सुलई 3.सोलन्कीयों रो वाडो। विशनदानजी कि मृत्यु होने पर धर्मपत्नी जान कुंवर ने सारी जागीरी दान दे दी।
21 सागवाड़ा नीम्बोड   बाटी बाटी पीठडजी रे लूनौजी फेर सुन्दरजी, वारा बेटा देवोजी वारे बदरीदासजी जिका ने नीबोड साँसण दिनो रावल देदो जी (गलीयाकोट शासक)।
22 सागवाड़ा पंचावलका   खिड़िया
23 सागवाड़ा सुलई   सिंढायच मौगडा से आकर सिंहढायच विशनदान ने रावल विजय सिंह कुंवर लक्ष्मण सिंह ने संवत 1970 कार्तिक शुदि पूर्णिमा को आलीशान तीन गाँव साँसण दिये- नवगामौ 2.सुलई 3.सोलन्कीयों रो वाडो। विशनदानजी कि मृत्यु होने पर धर्मपत्नी जान कुंवर ने सारी जागीरी दान दे दी।
24 सागवाड़ा सोलंकियां रो पाड़ो   सिंढायच मौगडा से आकर सिंहढायच विशनदान ने रावल विजय सिंह कुंवर लक्ष्मण सिंह ने संवत 1970 कार्तिक शुदि पूर्णिमा को आलीशान तीन गाँव साँसण दिये- नवगामौ 2.सुलई 3.सोलन्कीयों रो वाडो। विशनदानजी कि मृत्यु होने पर धर्मपत्नी जान कुंवर ने सारी जागीरी दान दे दी।
25 सीमलवाड़ा करावाड़ा   सौदा (१)ठाकुर नागदान जी सौदा को डूगंरपूर रावल आसकरणजी ने संवत 1652 में ग्राम करावाडा साँसण दिया। (२)ठाकुर जौरावर सौदा अपने ही पैतृक गाँव हरोली से कुछ मील दूर सिर धड़ से अलग हो जाने पर वीरगति प्राप्त होने से डूगंरपुर महारावल शिवसिंह ने बड़े पुत्र कुशलशाहजी सौदा
26 सीमलवाड़ा कोकल गढ   मैहडू (जाड़ावत) / खिड़िया खिडीया ठाकुर सिंह को डूंगरपुर महारावल खुमाण सिंह ने कोकलगढ़ साँसण दिया।
27 सीमलवाड़ा बरछावाड़ा   सौदा ठाकुर नागदान जी सौदा को डूगंरपूर रावल आसकरणजी ने संवत 1652 में बरछावाडा, हरोली तथा करावाडा साँसण दिया।
28 सीमलवाड़ा मेरूआ   नरा
29 सीमलवाड़ा मैरोप 1 मीसण (गेलवा) चारण अजित सिंह शाखा गेलवा को महारावल ऊदेसिंह ने मेंरोप नामक साँसण दिया।
कृपया इस लिस्ट को सही करने में सहयोग करें। अपने सुझाव admin@charans.org पर मेल करें अथवा नीचे कमेन्ट में लिखें।

93 comments

  • जयपाल सिंह सिंहढायच

    जय माताजी री हुकम आप बहुत ही सराहनीय कार्य कर रहे हो आप के ईस कार्य को खुब खुब सलाम हुकम गुजरात के चारणो की जील्ले वार सुची का काम 70 % पूर्ण हो चुका है मे आपको सारी जानकारी दुंगा आप ईसमे एड कर दीजीयेगा या तो फिर आप को एतराज ना हो तो मुजे ईस वेबसाईट का id password दीजीये ता की मे खुद सुधार कर सकु हुकम

    • जय माताजी की हुकम। आप जानकारी भिजवा दीजिये। गांवों के नाम जोड़ने के लिए कोई अलग id/password का सिस्टम नहीं बना अतः यह कार्य मुझे ही करना होगा। यदि गाँव के अन्दर निवास कर रहे चारण परिवारों की जानकारी जोडनी है तो आप स्वयं जोड़ सकते हैं उसके लिए आपको id/password देने से काम चल जाएगा। आप मुझे सीधे admin@charans.org पर मेल द्वारा भिजवा दीजिये।

  • Shambhusingh chahdot Barahath

    जय माता जी की आप का प्रयास बहुत ही सराहनीय है।
    इस में यदी परिवार के मुखिया का नाम व मोबाइल नंबर भी एड करें तो बढ़िया है।

    • हुकम ये व्यवस्था की हुई है। आप गाँव के नाम पर क्लिक करेंगे तो एक लिस्ट आएगी जिसमे आप जितने चाहें उतने नाम अपने गाँव से जुडवा सकते हैं। यदि आप संयोजक बनना चाहें तो आपके लिए में पासवर्ड बना सकता हूँ जिससे आप स्वयं ही नाम जोड़ सकते हैं और भविष्य में कुछ बदलाव् होने पर संशोधन भी कर सकते हैं।

  • Shambhusingh chahdot Barahath

    बांसवाड़ा जिले में जोहनिया व झुणिया एक ही गांव हैं।जोहनिया ही रखें।

  • Abhay singh

    हूकम मध्य प्रदेश ,जिला -मंदसौर,तहसील-सीतामऊ,गाँव-लदुना जुडा हुआ नही हे तो उसमे जोडना हे सा।
    गोत्र- अखावत रोहडिया बारहट

  • Bhupendra Singh

    हुकुम जय माता जी री सा , पाली जिले के खारची मारवाड़ जंक्शन के पास स्थित ठिकाणा आंगदोश में शंकरोत बारहठ है , आपके द्वारा केवल बारहठ ही अंकित किया गया है । इसके स्थान पर शंकरोत बारहठ अंकित करावे सा । जय माता जी री सा

  • पारस दान चारण

    श्रीमान जी कुंडल ग्राम फतेहगढ़ (जैसलमेर) मे न होकर ,बाड़मेर के गडरा रोड तहसील में है । बाड़मेर जिले का उत्तर पश्चिमी अंतिम ग्राम है ।

  • रणजीत सिंह चारण "रणदेव"

    चांचडा़ गौत्र का बकाण गांव राजसमंद में नहीं आता हैं। भीलवाडा जिले में आता हैं। तहसील -रायपुर

  • बृजमोहन चारण एडवोकट

    रतनगढ़ तहसील जिला चुरू के ग्राम परसनेऊ मे बणसूर (बर्णसूर्य ) गोत्र के चारण है !लेकिन आपकी लिस्ट मे नाम नहीं है !

  • ms charan

    आपका प्रयास अद्वितीय है परंतु नाम जोड़ते समय सावधानी रखवावे हुक्म।
    कई फर्जी भी होते है।
    जोधपुर और बीकानेर संभाग ,नागौर, सीकर, जयपुर, झुंझनू जिलो के अलावा जगहों के गांव जोड़ने से पूर्व समाज के विद्वानों से चर्चा करवावे।

    पुनः आपके पुनीत कार्य को कोटि कोटि धन्यवाद।

    • आभार हुकम। हमारी टीम तो पूर्ण रूप से तकनिकी टीम है। आपकी बात सही है मगर इस कार्य में यदि आप ही कुछ सहायता कर सकें तो उपकार होगा।

  • अशोक दान

    भोजरिया चोहटन लिखना भूल गए जहाँ पर देथा ओर बारहठ निवास करते है

  • sandeep charan

    sir charan.org ki itni siddad se dekhbhaal krne k liye Puri team ko dhanyawad…

    Jai mata g ri sa

    • आभार। आप सभी का प्रोत्साहन एवं सहयोग ही इसके लिए जिम्मेदार है। जय माताजी की।

  • सुरेन्द्र सिंह गूंगा

    श्रीमानजी पार मथाण गूंगा का ही पुराना नाम है। जो हमारे पुर्वज गूंगो जी के नाम पर देवल मा ने नामकरण किया था ।

  • Hansraj charan

    हुकुम कोटा में बावड़ी खेड़ा गाँव है
    जिमसें काछेले चारणो के 130 घर है ।
    इसे भी लिस्ट में जोड़े

  • शम्भु चारण

    गांव – अरनिया जोशी
    तहसील- निम्बाहेड़ा
    जिला – चित्तोड़ गढ़

    चारण – मल्याण , नील , भुरियाण, किट , सीकड़

  • आदर्श सिंह पालावत(माहोंद)

    हुकुम अलवर जिले में वजीठ ओर करनी कोट गांव में एक भी चारण नही है।

    • यदि यह चारणों को सांसण में प्राप्त गाँव था तो भी इसका लिस्ट में नाम होना चाहिए हुकम। आज यहाँ चारण रहते हैं या नहीं इससे फर्क नहीं पड़ता।

  • brijmohan charan advocate

    churu jile ki ratangarh tehsil ke ganv champasi aur raghunathpura me charan cast ka ek bhi ghar nahi hai, riyasat kal me ratangarh kasba sindhayach charnon ka tha aur ratangarh me raghunath ji ka mandir banaya tha raghunathpura ganv us mandir ke naam se basaya tha is karan raghunathpura naam rakha vo sindhayach parivar ab suratpura churu tehsil me hai raghunathpura me charan parivar niwas nahi karte the ,champasi ganv jaroor charnon ka tha lekin vartman me champasi me koi charan parivar nahi hai aur na bhumi, makan hai

    • मैंने दोनों गांवों को लिस्ट से हटा दिया हुकम। जानकारी के लिए आभार।

  • brijmohan charan advocate

    churu jila ki ratangarh tehsil ke charanwasi ganv me chadawat barahath hain, kanwari ek ganv hai aapne kanwari/barahath likh rakha hai usaki jagah chadawat barahath likhane ki kripa karen

  • सुनिल सिंह चारण

    पाली के रोहट तहसील में स्थित आशियों का गांव नेहड़ा हैं न कि नेसड़ा और बस्सी हैं न कि वस्सी।

  • उमेश

    हुकुम सीकर के फतेहपुर तहसील में सांझासर ( किनीया) हैं ।

  • Kuldeep singh charan

    Hukum dudu ke pas (चरासडा) है … Spelling sahi kijiye

  • भरत चारण

    शाखा – दैथा
    गांव -सैयद का तला
    तहसील -सेड़वा
    बाड़मेर

  • Harsh Charan

    जिला : झालावाड
    तहसिल : झालरापाटन
    गाँव : केनपुरा गढवाडा ( गरवाडा )
    गौञ : चौराडा , आलगा , फुनडा , गाँगणिया

  • भवानी बोगसा

    हुकुम मीठापार खारापार नहीं है केवल खारापार हैं..सुधारने का कष्ट करें

  • Sandeep charan

    सोजत सोजत मुहड मूव रूप से गांव सनवाडा

    • हुकम थोडा विस्तार से तथा organised तरीके से बताएं ताकि समझने में सुविधा हो।
      जिला: ???
      गाँव का नाम: ???
      तहसील का नाम: ???
      चारण शाखा: ???
      अन्य जानकारी: ???

      • JAGDISH DAN LALAS

        हुकम जय माता जी की सा
        हुकम नागौर जिले के परबतसर तहसील मे जगदीश पुरा के पास मे लालसो की ढाणी है हुकम आप से अनुरोध है सा इस भी अापकी इस लिस्‍ट मे शामील किया जावे सा
        जिला — नागौर
        गॉव — लालसो की ढाणी
        तहसील — परबतसर
        चारण शाखा — लालस

  • Dhiraj singh

    Sikar me deeppura ke aage charnan lagao hukam deeppura(charnan)
    Jai mata ji ki

  • विजय सिंह सामोर

    हुकुम मेरे गाॅव का नाम चक हनुतपूरा, तहसील शाहपुरा जिला जयपुर है, जो कि आपकी वेब साईट पर गॉव चकहनुमतपुरा दर्शाया गया है, क़पया उक्‍त गॉव के नाम में सशोंधन कराने का श्रम करावें । जय माता जी री सा ।

  • Ravi

    Jodhpur ki bhopalgarh tehsil m ek gaanv or h Basni Sanduwan Jha Sandu Charan rehte h
    Add this village

  • Anand Singh kiniyan

    Hukum nagaur dist. Ki nawa tahseel me kiniya ka charanwas h usme keval kiniya pariwar hi rhte h RATNU to kuchaman tahseel me dusra charanwas h use jiliya charanwas Khte h usme rhte h ye dono gaav Alag alag h hmara gaav hudeel ke pas h plz update kre jai mata ji ki saa

  • Kailash Dan Ratnoo

    सर शेरगढ कलाऊ मे सिफ॔ रतनू है आपने आला बारहट लिखा हे

  • Aavad dan Charan

    Hukam mere gaav ka name nhi aaya
    Jodhdas he sa nagour jile me

    • तहसील भी बताईये हुकम तथा कौनसी चारण शाखा का गाँव है इसकी जाकारी भी दीजिये तभी जुड़ पायेगा।

  • Rajendra dan

    Tah. Makrana village vijaypura. Sakha. Lalash please village ka nam sahi kre

  • Anand Singh kiniyan

    Jai mata ji ki saa mera gaav nagaur dist ki nawa tahseel me charanwas h jo ki aapne dantaramgarh tahseel me show kr rha h kiniya ka charanwas jo roung h plz update kre

  • Praveen Deval

    आप द्वारा समूचे चारण समुदाय के बारे यह महत्वपूर्ण जानकारी हमें उपलब्ध कराई है।सचमुच आप का तहैदिल से शुक्रिया अदा करते हैं । विभिन्न गौत्रों के गाँव तहसील जिला सहित वहां के नौकरी पैशा/ व्यवसाय/ खेती/ राजनैतिक -ऐतिहासिक पृष्ठभूमि/ भौगोलिक स्थिति का भी उल्लेख आगामी संस्करणो में करने का श्रम करावें ।
    सम्पूर्ण राजस्थान चारण समाज की टेलीफोन निर्देशिका भी इसी ई- तकनीक से निकालने का प्रयास करें ।
    आपका पुनः आभार ।

    • बहुत बहुत आभार हुकम। हम लोग एक तकनिकी टीम हैं सा। जानकारी तो समाज के विद्वान महानुभावों, साहित्यकारों एवं कवियों से ही मिलती है जिसको नियोजित रूप से हम लोग प्रदर्शित करते हैं। हम लोग पूर्ण रूप से सूचना प्रदान करने वालों पर निर्भर हैं। आप जानकारी उपलब्ध करवाएं उसको सुनियोजित करके साईट पर समस्त चारण समुदाय के लिए उपलब्ध जरूर करेंगे। charans.org के प्रस्तावित कार्य आप इस लिंक पर देख सकते हैं। https://www.charans.org/about-us/
      आपका पुनः आभार। अपने सुझाव भेजते रहें तथा टीम का उत्साहवर्धन करते रहें।

  • जयदेवदान बारहठ जामनगर गुजरात

    गुजरातमें भी मारू चारणों के 84 के आसपास गांव हे हमभी राजस्थानसे ही हे कृपया ईनको भी दर्शावो
    जयदेवदान बारहठ (संत ईशरदासजी बारहठ के वंसज)
    जामनगर गुजरात 361001

    • जय माताजी की हुकम। आप मुझे सभी गाँवो की लिस्ट उनके जिले, तहसील, गाँव तथा गोत्र सहित भिजवा दें तो में जरूर उसे जोड़ दूंगा। केवल मारू ही नहीं अपितु सभी चारणों के गाँवो की लिस्ट भिजवायें हुकम।

  • रोहित आशिया

    कृपया आसिया को आशिया करें

    • हुकम पहले आशिया ही था परन्तु कई साहित्यकार मित्रों ने इसको आसिया करवाया। उन्होंने “आसिया” गोत्र का मूल तथा इसका उद्भव कैसे हुआ इसकी पूरी प्रमाणिक जानकारी मुझे भेजी। आप यदि महाकवि बाँकीदास जी का कोई भी प्रामाणिक ग्रन्थ देखेंगे तो पाएँगे की उन्होने अपने नाम के आगे आसिया ही लिखा है। वैसे नाम अपभ्रंश होते रहते हैं। मेरा स्वयं का गोत्र में मिश्रण लिखता हूँ किन्तु मूल गोत्र में मीसण लिखा जाता है। वेबसाईट पर एक ही तरह से लिखना जरूरी है ताकि कोई सर्च करे तो एक ही नाम से सारे रेफ़रेंस मिल जाये इसलिए सभी जगह मैंने आसिया ही प्रयुक्त किया है।
      जय माताजी की।

    • Kuldeep dan

      Hukam me kuldeep dan ashiya
      जिला नागौर
      तहसील नागौर
      गांव श्री बालाजी
      चारण आशिया
      Hukam kirpa krke jode

  • Akshay Arha

    Great effort sir. You did a great Job.
    Waiting for an android app to be released, so as to make this charan community search process more easy and handy.
    Thank you.

    • Thanks Hukam. We will definitely work on mobile app also. As such the site is responsive and it will adjust to mobile screen as well. This map will work on mobile browsers without any problem.

  • Ashwini Kumar

    Commendable initiative.

  • Shyam singh lakhawat

    It is good enough to percolate social awareness in general about our progress and attitute support.

  • Mahendra singh kaviya nokh.

    Sunder prayas banasa.ane vale samay me sirdar eska upyog cyclopedia ki tarah karenge.koshis ke liye badhae.mahendra kaviya nokh.

  • vishnu singh khirya

    Great you are do very hard work

    Thank & Regards

  • आवड़ दान आढा ,सींथल

    इस साईट पर लिखे लेख, कविता ,और छंद पढ़ कर गर्व होता है।हम जैसे लोगों को ,जो समाज के बारेमें ज्यादा जानकारी नहीं रखेते उनको समाज की विभूतियों का ज्ञान हुवा है। जो लोग चरणों की तुलना भाटों से करते है।इस साईट के कारण उनको हम जबाब देने लायक हो गए है

    गांव सींथल, जिला बीकानेर में मूड़ भी निवास करते है।इस में सुधार करने की कृपा करें।

    • prince anand singh

      चारण समाज व चारण साहित्य, छंद लेख, कविता और चारण कवियों के बारे में विस्तृत जानकारी पढ़ कर बहुत ही ख़ुशी हुई.

      • Dharmendra barhatha

        हुकम बाड़मेर जिले में जो गांव आपने हड़वा लिखा है वो हड़वेचा है कृपया इसमे सुधार करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *